Hindi Kavita
सुरेश चन्द
Suresh Chand
 Hindi Kavita 

सुरेश चन्द

सुरेश चन्द (12 जुलाई 1972-) का जन्म उत्तर प्रदेश राज्य के गोरखपुर जिले में ग्राम जंगल चवँरी थाना खोराबार में एक दलित परिवार में पिता श्री हीरालाल तथा माता श्रीमती सुनदेई के घर हुआ । इनकी शिक्षा एम. ए (हिन्दी ), एल. एल. बी है। ये बाँसुरी एवं तबला से संगीत प्रभाकर हैं। इन्होंने राजभाषा पत्रिका 'कौशाम्बी' तथा 'पूर्वाञ्चल दीप' का 1998 से 2011 तक एवं 'सामाजिक उद्घोष' पत्रिका का 2001 से 2002 तक सम्पादन किया । इनका प्रथम काव्य संग्रह 'हम उन्हें अच्छे नहीं लगते' वर्ष 2010 में प्रकाशित हुआ । इस समय आप भारतीय जीवन बीमा निगम, शाखा सी.ए.बी. बक्शीपुर, गोरखपुर में सहायक प्रशासनिक अधिकारी के पद पर कार्यरत हैं।

हिन्दी कविता सुरेश चन्द

बाबा साहब डा. अंबेडकर के प्रति
बेटी
हिन्दी जन की बोली है (गीत)
गरीब का दुःख
हम उन्हें अच्छे नहीं लगते
प्रेम कविता
अँखुए
ओ काली घटा (गीत)
जुर्म के विरोध में
एक गीत लाया हूँ मैं अपने गाँव से (गीत)

Hindi Poetry Suresh Chand

Baba Sahib Dr Ambedkar Ke Prati
Beti
Hindi Jan Ki Boli Hai (Geet)
Gareeb Ka Dukh
Ham Unhen Achhe Nahin Lagte
Prem Kavita
Ankhuye
O Kali Ghata (Geet)
Jurm Ke Virodh Mein
Ek Geet Laya Hoon Main Apne Ganv Se (Geet)
 
 
 Hindi Kavita